पुरे देश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते अब उत्तराखंड सरकार ने भी बृहस्पतिवार को नए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। एसओपी के मुताबिक, पूरे प्रदेश में रात साढ़े 10 बजे से सुबह पांच बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। वहीं, प्रदेश में सार्वजनिक वाहनों में अब अधिकतम 50 प्रतिशत सवारियां ही बैठाई जा सकेंगी। वहीं कोचिंग संस्थानों, स्वीमिंग पूल और स्पा आदि के संचालन पर भी रोक लगा दी गई है। 



इस क्रम में आज उच्च शिक्षा विभाग ने भी 30 अप्रैल 2021 तक राज्य के मैदानी जनपदों देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल, उधमसिह नगर तथा कोटद्वार भाबर के सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को बन्द रखने का निर्णय लिया है।  इन संस्थानों में छात्र छात्राओं को आनलाईन पढाई कराई जायेगी। जबकि राज्य के अन्य जनपदों के शिक्षण संस्थान यथावत अगले निर्णय तक खुले रहेंगे तथा आफलाईन एवं आनलाईन दोनो मोड में पढाई जारी रहेगी।

इस बात की सूचना मीडिया को जारी एक बयान में उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत ने  दी उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ रह है विशेषकर अधिक जनसंख्या वाले मैदानी जनपदों में कोरोना का प्रभाव अधिक देखा जा रहा  है। इसी के मध्य नजर राज्य के 04 जनपदों देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल, उधमसिह नगर तथा कोटद्वार भाबर के सभी राजकीय एवं निजी शिक्षण संस्थनों को आगामी 30 अप्रैल 2021 तक बन्द रखने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये गये है। इसी के साथ इन शिक्षण संस्थानों में छात्र छात्राओं की पढाई ऑनलाइन कराये जाने के निर्देश दिये गये है।

आपको बता दें की राज्य के अन्य जनपदों में समस्त उच्च शिक्षण संस्थान यथावत खुले रहेंगे।  इन शिक्षण संस्थानों में ऑनलाइन एवं आनलाईन दोनों मोड में पढाई जारी रहेगी।




Post a Comment

नया पेज पुराने