SEO क्या है (WHAT IS SEO ) SEO kya hai -





किसी भी Website / Blog के Search Engine में रैंक होने के लिए SEO बेहद जरूरी Factor होता है , सरल शब्दों में Search Engine Optimization उन सभी Tactics और Practices का सेट हो होता है जिनके द्वारा आपकी Website Design, Content और Code में कुछ बदलाव करना शामिल है जो आपकी साइट को एक Search Engine के लिए अधिक आकर्षक बनाते हैं। तांकि Search Engine आपकी वेबसाइट को Search Engine Results Page (SERPs) पर Top Result के रूप में प्रदर्शित करे।



Short Notes -

SEO का Full Form - Search Engine Optimization
SEO हिंदी में - खोज इंजिन अनुकूलन

Types Of SEO-

सामान्यत Search Engine Optimization को दो भागों में वर्गीकृत किया जाता है (Types Of SEO) , लेकिन कार्यप्रणाली के आधार (On  Function Basis) पर अब तीन प्रकार से Classification किया जा सकता है  जो की निम्न है 

ON-PAGE SEO

ON-SITE SEO या TECHNICAL SEO

OFF-PAGE SEO

ON-PAGE SEO-

ऑन पेज एसईओ उन सभी Key factors का Optimization होता है जिनको सामान्य रूप से देखा व् समझा जा सकता है , कहने का अर्थ है की आपकी वेबसाइट के वे सभी पहलू जिन पर आपका पूर्ण रूप से नियंत्रण (Have Complete Control) होता है जैसे , Title Tag , Meta tag , Headings , Internal Links , Image Name और ALT Tags , User Experience (UX) , User Interface (UI) आदि। हालाँकि यह बेहद आसान पर प्रक्रिया है लेकिन इनका सही प्रयोग करने पर ही आपको रिजल्ट मिलता है

ON-SITE SEO या TECHNICAL SEO-

टेक्निकल एसईओ या ऑन साइट एसईओ को भी ON-PAGE SEO का ही हिस्सा माना जा सकता है लेकिन Technical Terms की अधिकता के कारण इसे अब एक अलग प्रकार ही माना जाने लगा है , Technical SEO , उन Ranking Factors का Optimization होता जो की आधुनिक Search Engines की Technical Requirements  को पूरा करता है जैसे , Indexing factors , XML sitemaps , Duplicate content , Hreflang , URL Structure , Site architecture , Canonical tags , 404 pages , Redirection , आदि 


OFF-PAGE SEO-

ऑफ पेज एसईओ सभी Key factors का Optimization होता है जिनको सामान्य रूप से देखा नहीं जा सकता लेकिन यह आपकी Website के Search Engine Ranking पर अत्यधिक प्रभाव डालते हैं OFF-PAGE SEO में Backlins Content , Top Factor होते है वास्तव में OFF-PAGE Optimization , World Wide Web या Internet पर अपनी Property यानि आपकी Website की Authority बढ़ाने की प्रैक्टिस है जिससे आपको न सिर्फ High Traffic मिलता है बल्कि आपकी Search Ranking भी Improve होती है



SEO Factor की दृष्टि से OFF-PAGE SEO बेहद जरूरी प्रक्रिया-


एसईओ (SEO) की दृष्टि से ऑफ पेज एसईओ बेहद जरूरी प्रक्रिया है इससे न सिर्फ आपके वेबसाइट को ट्रैफिक मिलता है बल्कि आपके Website की Domain Authorty और Page Authorty भी बढ़ती है जो की Search Engine यह समझने में सहायक है की आपकी वेबसाइट कितनी Trustworthy है उसकी Quality क्या है जैसे महत्वपूर्ण अनेक जानकारी, इसके साथ ही आपकी Organic rank growth पर इसका भारी असर होता है, यहां आपको यह समझा जरूरी है की Backlinking के लिए विभिन्न तरिके प्रचलित हैं जैसे Citation, Profile Creation, Social Media, Social Bookmarking, Guest Posting, Directory Submission, Classified व अन्य लेकिन शुरुवाती Backlinks के लिए सबसे बेहतर तरीका Competitor Research रहता है


जब आप अपने Competing sites या उनके Backlinks research कर रहे हों, तो आपको इन बातों का ध्यान रखना चाहिए जिससे आपको High quality के Backlinks प्राप्त हो सकें


1. High DA व PA वाली साइट्स से ही बैकलिंक्स लेने का प्रयास करें


2. Link relevance पर ध्यान दें Backlinks अगर आपके विषय से संबंधित (Topic related) हो तो आपको अधिक लाभ होगा


3. Relevant blog / web page से no-follow link अभी भी सैकड़ों Dofollow link के परिणामस्वरूप हो सकते है, दोनों प्रकार की लिंक्स को वरीयता दें


4. Mobile friendly sites से लिंक प्राप्त करने की कोशिश करें


5. इसके अतिरक्त Link building के लिए साइट / पेज तैयार करें जैसे की Random keywords का उपयोग करके अपने पृष्ठों को Internal linking करना, Silo pages होने चाहिए, Thematic keywords का प्रयोग करना


NOTE : SEO में आपको यह समझना जरूरी है की Technique लगभग सभी की एक जैसी होती है , आपको अपनी Strategy को दूसरे से Unique और Better करना होता है जिससे आप उससे जल्दी ग्रो कर सको


Post a Comment

Previous Post Next Post